फौजी की कलम से



🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
एक लाल फिर लाल रंग में
रंगने आज चल पड़ा
जिसने देखा सिर्फ आज को
जिसके पीछे था कल खड़ा
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
वो ओत पोत वीर भाव मे
कभी धूप में कभी छाव में
लड़ता रहा शरहद पर वो
जो खेलता था कभी गांव में
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
भुला दिया अपना बचपन
जुड़ा जब मातृभुमि से मन
छोड़ कर फिर आया था
पहनाया था जिसे कंगन
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
देखी नही बच्चो की हँसी
इक तस्वीर थी बस दिल मे बसी
देश के लिए सब त्याग करना
एक मात्र थी उसकी खुशी
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
वो आँचल भी तो छूट गया
माँ का दिल भी अब रुठ गया
एक आईना जो सुबह शाम देखता
वो आईना भी पीछे टूट गया
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
इक फूल खिला था मेरे आँगन में
इक फूल यहाँ भी मिलता है
वो सुबह में खुशबू बिखेरती
ये रोज रात को खिलता है
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
कब सुबह हुआ,कब शाम ढली
बस दिन निकल जाती है
रात को भूख नही लगती
माँ तेरी याद बहुत आती है
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
कब सर्दी कब सावन गुज़रा
कई साल वो मेरी याद में तड़पी
जब जब चूड़ी उसकी खनकी
पतझड़ में भी ये आंखे बरसी
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
वो नन्हा सा मेरा कोमल काया
जिसने मुझे पापा कह बुलाया
साथ उसका भी छूट गया
यादों में बसा सिर्फ उसका साया
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
वो गांव की कच्ची गलियां
वो खेतों में गेहूँ की बालियां
याद बहुत आती है यारों
दोस्तों की प्यारी गालियां
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
खेलते थे कभी गुल्ली डंडे
उस हाथ मे बन्दूक आज पकड़ा है
पीछे नही करना कदम अपने
ऋण के जंजीर में जकड़ा है
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
अब कर्ज़ चुकाना मातृभूमि का
अब छोड़ सारा मोह माया
शुक्र करता हूँ मैं उस विधाता का
जिसने हमारा भाग्य बनाया
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
ना जान प्यारी ना जिस्म प्यारा
ना छोटा सा वो घर हमारा
सब कुछ बलिदान इस मिट्टी पर
अब यही आँसू यही जलधारा
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
दुश्मन से सिर्फ़ हमे लड़ना है
रोज एक कदम आगे बढ़ना है
चाहे गोली लगे या सर कटे
अब देश के लिए ही मरना है
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
रुकेंगे नहीं अब कदम मेरे
झुकेगा नही अब सर मेरा
एक गोद छोड़ दूसरा गोद मे आया
अब तू ही जननी तू अम्बर मेरा
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
सारे रिश्ते नाते तोड़ चला मैं
अब कर्तव्य ने मुझे पुकारा है
वो देश नही माँ है मेरी
अब बेटा बनने का वक़्त हमारा है
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
निकाल कर फेंकना है हर कांटे को
फूलो सा महकता अपना वतन हो
ख्वाहिश है,जब प्राण निकले
तिरंगा ही मेरा कफ़न हो
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳

2 Comments

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.