नैन

दो नैन बड़े मतवाले हैजो घायल करने वाले है❤️❤️❤️❤️❤️❤️वो क़ातिल बड़े अनोखे हैंगुपचुप सब कुछ देखे हैं❤️❤️❤️❤️❤️❤️ऐसा असर कर जाते हैंआशिक़ यूँ ही मर जाते हैं❤️❤️❤️❤️❤️❤️निर्दोष हैं नैना जाने दोउठते…

काव्य श्रृंखला – 66

बर्बाद गुलशन मर चुकी मानवता में क्यों जान देखते हो तुमझूठ और फरेबों में क्यों ईमान देखते हो तुममतलबी यारानों में क्यों यार देखते हो तुमटूटते घरानों में क्यों प्यार…